स्वागत है आपका ।

Thursday, 12 November 2015

देश भक्त

जब अंग्रेज दुसरे रजवाडों के राज हथिया रहे थे
तब तक वे चुप थे

जब उनके राज का नंबर आया
तब वे अंग्रेजों से लडने निकले
हाँ , वे  अंग्रेजों से लडे थे
यह सच है

मगर
अंग्रेजो से लडने का मतलब हरसमय देशभक्त होना नही होता
एक बहुत बडा अंतर होता है
राजभक्त और देश भक्त मे ।
--------------------------शिव शम्भु शर्मा ।