स्वागत है आपका ।

Wednesday, 6 March 2013

कविता का मतलब


अगर कविता का मतलब
एक गुलाब लेकर अपनी प्रेयसी को रिझाना
उसके विरह में विलाप करना है

अगर
बेगैरत हुक्काम की ताबेंदारी चापलुसी करना
गुमाश्तें की तरह छतरी ढोना और कानाफ़ुसी करना है

तो नही लिखनी है मुझे ऎसी कोई कविता
कह दो उन्हें
जो शब्दकौशल शब्दचित्र और शब्दबिम्ब के चातुर्य
का हुनर रखते है ।
----------------शिव शम्भु शर्मा ॥

No comments:

Post a Comment